India gate informetion In हिंदी

India Gate आखिर कब और क्यों बनाया

India Gate आखिर कब और क्यों बनाया

India gate हमारे देश की एक एतिहासिक वास्तु हे

क्या आप जानते हे इंडिया गेट क्यों और कब बना था ?

किसने बनाया था इस ऐतिहासिक वास्तु को हमारे देश में ?ऐसे कही सारे सवाल मन में लेकर जानते हे

India Gate के बारे में रोचक जानकारी वह भी हिंदी में

इंडिया गेट कहा पर है

हम सभ भारत के नागरिक होने के कारन India Gate यह हमारी ऐतिहासिक वास्तु कहा हे यह तो बताने की जरुरत नहीं हे

पर जिन लोगो को पता नहीं हे यह हमारा फर्ज हे की इंडिया गेट जैसी ऐतिहासिक वास्तु के बारे में हमें जरूर बताना चाहिए की इंडिया गेट कहा पर हे

इंडिया गेट एक वॉर मेमोरियल वास्तु हे यह हमारे वीर जवानो ने हमारे देश के प्रति दिया गया बलिदान को

और उनके संघर्ष को दिखाने वाली एक ऐतिहासिक वास्तु हे

इंडिया गेट दिल्ली में सीथ राजपथमार्ग पर यह ऐतिहासिक वास्तु स्थापित हे

इंडिया गेट किसने बनवाया

ऐसी ऐतिहासिक वास्तु हमारे देश में किसने बनवायी थी ?

यह वास्तु अंग्रेजो ने बनवाई थी

इस कहानी की शुरवात होती हे पहले वर्ल्ड वॉर से

पहले वर्ल्ड वॉर में ब्रिटिश साम्राज्य को बचाने के लिए हमारे देश के 90 हजार सैनिको ने अपने जान की बाजी लगाकर बलिदान दिया था और ब्रिटिश साम्राज्य को बचाया था

और उन वीर जवानो को बलिदान को सदैव समर्ण करने के लिए ब्रिटिश सरकार ने इंडिया गेट जैसी ऐतिहासिक वास्तु बना ने का विचार किया था

और कुछ इस तरह से शरू हुई थी इंडिया गेट बनाने की गाथा

1921 में क्वीन विक्टोरिया और प्रिंस अल्बर्ट के बेटे ऑथर ने इंडिया गेट की नीव रखी

इंडिया गेट जैसे ऐतिहासिक वास्तु का design Edwin Iutyens ने बनाया था

इंडिया गेट को पेरिस में स्तिथ अर्क डी ट्रायम्फ से प्रेरित होकर उसकी design को सामने रखकर बनवाया गया था

अर्क डी ट्रायम्फ के बारे में अधिक जानकारी के लिए इस लिंक को क्लिक करे https://hi.wikipedia.org/wiki/%E0%A4%86%E0%A4%B0%E0%A5%8D%E0%A4%95_%E0%A4%A1%E0%A5%80_%E0%A4%9F%E0%A5%8D%E0%A4%B0%E0%A5%8C%E0%A4%AE%E0%A5%8D%E0%A4%AB%E0%A4%BC

दस साल काम करने के बाद 1931 में इंडिया गेट बन के तैयार हुवा था

शुरवात में इंडिया गेट का नाम all india war memorial रखा गया था

इस स्मारक पर आज भी यूनाइटेड किंगडम के कुछ अधिकारी और सैनिको के सहित 13 हजार से भी ज्यादा वीर जवानो के नाम देख ने को मिलते हे

इंडिया गेट की कुल हाइट 42 मीटर हे और इसके निर्माण के लिए लाल और पिले रंग के रेतीले पथर के साथ ग्रेनाइड का उपयोग किया था

इंडिया गेट जैसे ऐतिहासिक वास्तु का design Edwin Iutyens

इंडिया गेट अमर जवान ज्योति (India Gate आखिर कब और क्यों बनाया)

भारत को आजादी मिलने के बाद इंडिया गेट में बहुत सारे बदलाव किये गए

और उसी बदलाव में एक हे अमर जवान ज्योति

इंडिया गेट के चारो कोनो पर अमर जवान ज्योति जलती रहती हे

1971 में भारत और पाकिस्तान के युद्ध में भाग लेने वाले सैनिको के याद में अमर जवान ज्योति को स्तापित किया था

अमर जवान ज्योति के पास एक चमकती हुवी रायफल भी गड़ी हुवी हे जिसके ऊपर सैनिक की टोपी भी रखी हुई हे और यह दृश्य हम सभी को हमारे जवानो की बलिदान की याद दिलाता हे

इंडिया गेट के आसपास लॉन फवारे और राष्ट्रपति भवन के दृश्य इसे और भी आकर्षित बना देते हे

अगर अब कभी दिल्ली जायेगे तो यह ऐतिहासिक वास्तु जरूर देखना

अमर जवान ज्योति

अगर आपको हमारा यह लेख India Gate आखिर कब और क्यों बनाया जरूर पसंद आया होगा

और ऐसे ही रोचक जानकारी के लिए हमारा यह आर्टिकल जरूर पढ़िए https://hindimaigyan.in/most-popular-language-information-in-hindi/

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)

www.hindimaigyan.in